September 29, 2022

वर्तमान में भारत के राष्ट्रपति कौन है | bharat ke rashtrapati kaun hai 2022

भारत के राष्ट्रपति, भारत के वर्तमान में राष्ट्रपति कौन है, भारत के राष्ट्रपति कौन है 2022, भारत के राष्ट्रपतियों की सूची 2022, bharat ke rashtrapati kaun hai 2022, vartman mein bharat ke rashtrapati kaun hai,

भारत के राष्ट्रपति कौन हैं 2022 आज हम इस पोस्ट के माध्यम से पूरा जानकारी हिंदी में बताने वाले है वर्तमान में मतलब 2022 में भारत के राष्ट्रपति कौन हैं। इसके अलावा सभी राष्ट्रपतियो की सूची और उनके बारे में जानकारी देंगे-

भारत के राष्ट्रपति कौन हैं? (Bharat ke president kaun hai)

वर्तमान समय मे भारत के राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद जी (Ram Nath Kovind) हैं। ये भारत के 14वे राष्ट्रपति के रूप में चुने गए हैं जिनका निर्वाचन 25 जुलाई 2021 को हुआ था। तब से अब तक राष्ट्रपति के पद पर अपना कार्यभार ईमानदारी और बेहतर अनुभव से सम्भाल रहे हैं। रामनाथ कोविंद राष्ट्रपति बनने से पहले 2015 से 2017 तक वे बिहार के राज्यपाल चुने गए थे।

bharat ke rashtrapati kaun hai

रामनाथ कोविंद के जीवन के बारे में जाने तो इनका जन्म एक गरीब परिवार में हुआ था लेकिन इनके अंदर देश की सेवा करने की उमंग थी और बहुत संघर्ष और परिश्रम करके यंहा तक पहुंचे है।

रामनाथ कोविंद जीवनी:- रामनाथ कोविंद का जन्म 1 अक्टूबर सन 1985 को उत्तर प्रदेश के कानपुर के परौख नामक गाँव मे हुआ है। ये अपने भाई बहन में सबसे छोटे हैं इनके पिता जी एक किराना का दुकान करके पालन पोषण करते थे। 5 वर्ष की अवस्था में गांव में आग लगने के कारण इनकी माता जी की मृत्यु हो गयी। फिर भी इन्होंने अपने आप को टूटने नही दिया और पढ़ने का फैसला किया dev college में उन्होंने दाखिला ली और वँहा से इन्होंने B.com और LLB की पढ़ाई पूरी की। LOW में ग्रेजुएशन करने के बाद ये सिविल सर्विस की तैयारी के लिए ये दिल्ली चले आये कुछ समय बाद 1971 में counselled of delhi में इन्हें एक कर्मठ वकील के रूप में चुना गया। इसके बाद इन्होंने 1979 तक वकील के रूप में काम किये।

1991 में रामनाथ कोविंद ने भारतीय जनता पार्टी को ज्वाइन किया और ये 1998 से लेकर 2002 तक ऑल इंडिया कोली समाज के president के रूप में कार्य किये। इसके बाद इनके काम को देखते हुए इन्हें उत्तर प्रदेश में संसद के रूप में चुना गया। संसद के समय मे इन्होंने बहुत स्कूल और कॉलेजों की अस्थापना किया। इनके काम से खुश होकर इनको 8 अगस्त 2015 को बिहार का गवर्नर बन दिया गया।

2 साल काम करने के बाद इन्होंने गवर्नर पद से इस्तीफा देकर राष्ट्रपति पद के नॉमिनेशन के लिये उम्मीदवार बने और 65.65% वोट पाकर बड़ी जीत हासिल की और भारत के 14वें राष्ट्रपति के पद को संभाला। इसके पहले 13वे भारत के 13वे राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी थे।

भारत के प्रथम राष्ट्रपति कौन थे (Bharat ke pratham rashtrapati kaun the)

देश आजाद होने के बाद भारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद को 12 जनवरी 1950 को बनाया गया। ये 12 वर्ष से अधिक समय तक राष्ट्रपति के पद का कार्य भार सम्भालते रहे। इनका जन्म 3 दिसम्बर 1884 को बिहार के सिबन जिले में हुआ था। राजेंद्र प्रसाद एक वकील थे।

भारत के पूर्व राष्ट्रपति कौन थे?

भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ प्रणव मुखर्जी थे। वे 2012 में राष्ट्रपति पद के लिये चुने गये थे वे भारत के 13वे राष्ट्रपति थे। इनका जन्म पश्चिम बंगाल में हुआ था। पहली बार भारत के राष्ट्रपति के रूप में किसी बंगाली को चुना गया था। ये 2012 से 2016 तक राष्ट्रपति के रूप में कार्य किये।2019 में इनको भारत के 14वे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के हाथों से भारत के सर्वोच्च पुरुस्कार भारत रत्न से सम्मानित किया गया था।

भारत के प्रथम महिला राष्ट्रपति कौन थी?

देश आजाद होने के बाद भारत की पहली महिला राष्ट्रपति श्री मति प्रतिभा देवी सिंह पाटिल को राष्ट्रपति बनाया गया था। ये 2006 में भारत के 12वे राष्ट्रपति के रूप में कार्य भार संभाली थीं। इनका जन्म 19 दिसम्बर सन 1934 को जलगांव महाराष्ट्र में हुआ था। इस समय प्रतिभा पाटिल राजस्थान के राज्यपाल के रूप में कार्यरत हैं।

भारत के राष्ट्रपतियो की सूची-

राष्ट्रपति और उनके समय काल
डॉ. राजेंद्र प्रसाद (1950 से 1962 तक)
डॉ. सर्वपल्ली एस. राधाकृष्णन (1962 से 1967 तक)
डॉ. जाकिर हुसैन (1967 से1969 तक)
वीवी गिरि (1969 से 1974 तक)
फखरुद्दीन अली अहमद (1974 से 1977 तक)
नीलम संजीव रेड्डी (1977 से1982 तक)
ज्ञानी जैल सिंह (1982 से 1987 तक)
आर वेंकटरमन (1987 से 1992 तक)
डॉ. शंकर दयाल शर्मा (1992 से 1997 तक)
के. आर. नारायणन (1997 से 2002 तक)
डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम (2002 से 2007 तक)
श्रीमती प्रतिभा देवी सिंह पाटिल (2007 से 2012 तक)
प्रणब मुखर्जी (2012 से 2017 तक)
राम नाथ कोविंद (2017 से वर्तमान)

राष्ट्रपति की नियुक्ति कौन करता हैं?

राष्ट्रपति की नियुक्ति वोट के माध्यम से होता हैं राष्ट्रपति के चुनाव में निर्वाचन मण्डल भाग लेता हैं. निर्वाचन मण्डल में राज्यसभा और लोकसभा के सदस्य और विधानसभा के नामित सदस्य द्वारा राष्ट्रपति का चुनाव कर नियुक्ति की जाती हैं।

राष्ट्रपति पद के लिये योग्यता

  1. वह भारत का नागरिक ही।
  2. 35 वर्ष की आयु पूरी कर चुका हो।
  3. लोकसभा का सदस्य निर्वाचित किये जाने योग्य हो।
  4. चुनाव के समय लाभ का पद न धारण किये हो।
  5. अनुच्छेद- 54 के अनुसार राष्ट्रपति के निर्वाचन मंडल में लोकसभा, राज्यसभा और राज्य की विधानसभाओं के निर्वाचित सदस्य भाग लेते हैं, परन्तु नई व्यवस्था के अनुसार पुडुचेरी विधानसभा तथा दिल्ली विधानसभा के निर्वाचित सदस्य को शामिल किया जाता है।
  6. एक व्यक्ति जितनी बार चाहे राष्ट्रपति पद पर निर्वाचित हो सकता हैं।
  7. राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के लिये निर्वाचन मण्डल के 50 सदस्य प्रस्तावक तथा 50 सदस्य अनुमोदक होते है।
  8. अनुच्छेद-55 के अनुसार राष्ट्रपति का निर्वाचन समान अनुपातिक प्रतिनिधित्व प्रणाली और एकल सकरमणीय मत पद्धति के द्वारा होता है।
  9. राष्ट्रपति के निर्वाचन से सम्बंधित विवाद उच्चतम न्यायालय द्वारा निपटाया जाता हैं।
  10. निर्वाचन अवैध घोषित होने पर उसके द्वारा किये गये कार्य अवैध नही होते हैं।
  11. राष्ट्रपति का कार्यकाल 5 वर्ष होता है।
  12. राष्ट्रपति को उसके पद की शपथ उच्चतम न्यायालय का मुख्य न्यायाधीश दिलाता है। उसके अनुपस्थिति में उच्चतम न्यायालय का वरिष्ठतम न्यायाधीश शपथ दिलाता हैं।
  13. राष्ट्रपति अपना त्याग पत्र उपराष्ट्रपति को देता है तथा उपराष्ट्रपति इसकी सूचना लोकसभा अध्यक्ष को देगा।
  14. राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार को चुनाव प्रचार के लिये दो सप्ताह का समय मिलता हैं।

राष्ट्रपति के वेतन एंव भत्ते

  • राष्ट्रपति का मासिक वेतन पाँच लाख (500000) रुपये होता है।
  • 2017 से पहले राष्ट्रपति का वेतन 1.5 लाख था।
  • राष्ट्रपति का वेतन आयकर से मुक्ति होता है।
  • राष्ट्रपति को निशुल्क निवास स्थान व अन्य भत्ते प्राप्त होते हैं।

राष्ट्रपति के अधिकार तथा कर्तव्य

1. नियुक्ति सम्बन्धी अधिकार

  • प्रधानमंत्री की सलाह पर मंत्रिपरिषद के अन्य सदस्यों की नियुक्ति,
  • उच्चतम न्यायालय एंव उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश,
  • राज्यो में राज्यपाल,
  • भारत के नियंत्रक एंव महालेखा परीक्षक,
  • मुख्य चुनाव आयुक्त एंव अन्य चुनाव आयुक्त,
  • भारत का महान्यायवादी ( अटॉर्नी जनरल),
  • संघ लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष और सदस्य,
  • अंतराष्ट्रीय परिषद के सदस्य,
  • वित्त आयोग के सदस्य,
  • भाषा आयोग के सदस्य ,
  • पिछड़ा वर्ग आयोग के सदस्य,
  • भारत के राजदूत तथा अन्य राजनायिक,

2. विधायी शक्तियां-

  • संसद के सत्र को आहूत करने ,
  • सत्रावसान करने तथा लोकसभा भंग करने संबंधी अधिकार,
  • संसद द्वारा पारित विधेयक राष्ट्रपति के अनुमोदन के बाद ही कानून बनता है।
  • राष्ट्रपति अनुच्छेद-85 के अंतर्गत लोकसभा को भंग कर सकता है।
  • संसद का संयुक्त अधिवेशन संविधान के अनुच्छेद -108 के तहत राष्ट्रपति बुलाता है।

3. अध्यादेश जारी करने की शक्ति:-

राष्ट्रपति संविधान के अनुच्छेद-123 के अंतर्गत अध्यादेश जारी कर सकता है। इसका प्रभाव संसद का सत्र प्रारंभ होने के 6 सप्ताह तक रहता है। राष्ट्रपति राज्य सूची के विषय पर अध्यादेश जारी नही कर सकता है।

4. सैनिक शक्ति:-

राष्ट्रपति तीनो सेनाओं का सर्वोच्च सेनापति होता है, किंतु इनका प्रयोग विधि द्वारा करता है।

5. क्षमादान की शक्ति:-

संविधान के अनुच्छेद-72 के अंतर्गत राष्ट्रपति किसी अपराधी के दण्ड को कम या क्षमा कर सकता है।

6. राष्ट्रपति की आपातकालीन शक्तियां:-

आपातकाल से सम्बंधित उपलब्ध भारतीय संविधान के भाग-18 के अनुच्छेद-352 से 360 के अंतर्गत मिलता है। मंत्रिपरिषद के परामर्श से राष्ट्रपति तीन प्रकार के आपात लागू कर सकता है।

राष्ट्रपति के बारे में-

  • डॉ राजेंद्र प्रसाद भारत के प्रथम राष्ट्रपति थे। वे लगातार दो बार राष्ट्रपति निर्वाचित हुए थे।
  • डॉ जाकिर हुसैन भारत के प्रथम मुस्लिम राष्ट्रपति थे।
  • नीलम सजीव रेडडी प्रथम व्यक्ति थे, जो निर्विरोध राष्ट्रपति चुने गए।
  • भारत की प्रथम महिला प्रतिभा देवी सिंह पाटिल थी।
  • केवल वी.वी. गिरी के निर्वाचन के समय दूसरे चक्र की मतगणना करनी पड़ी।
  • डॉ एस राधा कृष्णन भारत के प्रथम उपराष्ट्रपति तथा दूसरे राष्ट्रपति बने थे।

सामान्य सवाल (FAQ)

प्रश्न- वर्तमान भारत के राष्ट्रपति कौन है?
उत्तर- रामनाथ कोविंद

प्रश्न- भारत के राष्ट्रपति कौन है 2020
उत्तर- रामनाथ कोविंद

प्रश्न- भारत के राष्ट्रपति का वेतन?
उत्तर- 5 लाख प्रति माह

प्रश्न- भारत मे अबतक कितने राष्ट्रपति हुए हैं?
उत्तर- 14

प्रश्न- राष्ट्रपति को शपथ कौन दिलाता हैं?
उत्तर- मुख्य न्यायाधीश

प्रश्न- राष्ट्रपति का कार्यकाल?
उत्तर- 5 साल

प्रश्न- डॉक्टर अब्दुल कलाम भारत के राष्ट्रपति कब बने थे?
उत्तर- 25 जुलाई 2002 को

निष्कर्ष – आशा करता हूं यह पोस्ट आप लोगों को अच्छी लगी होगी और इस पोस्ट में आप लोगो को भारत के वर्तमान में राष्ट्रपति कौन है | bharat ke rashtrapati kaun hai 2022 के बारे में पूरी जानकारी मिल गयी होगी अगर यह पोस्ट आप लोगो को अच्छी लगी हो तो अपने मित्रो के साथ शेयर जरूर करे धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published.